गुरुवार, 8 अगस्त 2013

सच्चा तू करतार है [प्रार्थना]

यह प्रार्थना मेरे बेटे ने हमेशा लोरी की तरह सुनी है इसलिए मैंने यह उसके लिए गाई है .....

सच्चा तू करतार है सबका पालनहार है |
तेरा सबको आसरा सुखों का भण्डार है || 

नदियाँ नाले पर्वत सारे तेरी याद दिलाते हैं ...तेरी याद 
ऋषि मुनि और योगी सारे तेरे ही गुण गाते हैं |
सच्चा तू करतार ....

बादल गर्जे बिजली चमके छम छम वर्षा आती है ...छम छम 
मीठी वाणी कोयल बोले यही राग सुनाती है |
सच्चा तू करतार ...

सत चित आनंद प्रभु को वेदों ने बतलाया है .....वेदों ने...
अंत तेरा ना किसी ने पाया सुंदर तेरी माया है |
सच्चा तू करतार ....

शुभ कर्मों से मानव का यह सुंदर चोला पाया है ....सुंदर चोला .
विषय विकारों में फंस करके इसको दाग लगाया है |
सच्चा तू करतार...

नंदलाल कहे श्रद्धा से चरणों में शीश झुकाते हैं ...चरणों में 
बल बुद्धि और विद्या का हम दान आपसे चाहते हैं |
सच्चा तू करतार .... 
मेरी आवाज में सुनें ..


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...